कोविड-19 के समय प्रेगनेंसी से जुड़े दो एहम सवाल।

क्या कोविड-19 मुझसे, गर्भ में पल रहे मेरे बच्चे को भी हो सकता है?

तो इस बारे में अभी तक का सबसे भरोसेमंद स्रोत WHO कहता है कि ”हमें अभी तक नहीं पता कि कोविड-19 पॉजिटिव गर्भवती महिला से उनके गर्भ में पल रहे बच्चे को या जन्म के समय यह वायरस फेल सकता है या नहीं। अभी तक, गर्भ में बच्चे के चारों तरफ़ मौज़ूद पानी में या माँ के दूध में कोई भी कोविड का एक्टिव वायरस नहीं पाया गया है।”

वैसे Italian researchers के मुताबिक़ ‘नया कोरोनावाइरस कोविड संक्रमित गर्भवती माओं से उनके गर्भ में पल रहे बच्चों को होने की संभावना हो सकती है। यह दावा वो 31 महिलाओं पर किये गए शोध के आधार पर कह रहे हैं, जिन्होंने मार्च और अप्रैल में बच्चों को जन्म दिया।

फिर भी, इस शोध को लीड करने वाली Dr. Claudio Fenizia ने कहा है कि गर्भवती महिलाओं को इस शोध से चिंता नहीं करनी चाहिए, क्यूंकि इस बारे में कोई गाइडलाइन लागू बहुत जल्दबाज़ी होगी या कह लीजिये इसके बारे में और रिसर्च की ज़रूरत है।

मैं प्रेग्नेंट हूँ। मैं कैसे खुद को COVID -19 से बचा कर रख सकती हूं?

इस बारे में भी चलिए जानते हैं WHO क्या कहता है :

कोविड-19 से बचने के लिए गर्भवती महिलाओं को वो सब करना है जो कोई भी और इंसान कर रहा है । जैसे-

सेनिटाइज़र का इस्तेमाल, या साबुन और पानी से अपने हाथों को बार-बार धोना।
दूसरों से निश्चित दूरी रखना और भीड़ भरी जगह से बचना। जहाँ लोगों से दूरी बनाना संभव नहीं हो वहां मास्क पहनना ।
बार-बार अपनी आंखों, नाक और मुंह को छूना अवॉयड करना।
खांसी या छींक आने पर अपनी कोहनी या टिशू से मुँह-नाक ढ़कना। यूज़ किये हुए टिशू को डिस्पोज़ करना।
अगर बुखार, खांसी या सांस लेने में कठिनाई हो, तो अपने डॉक्टर को इस बारे में बताना अनिवार्य है, इसलिए इस स्थिति को अपने डॉक्टर से रिपोर्ट करें।

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं का शरीर कई चेंजस से गुज़रता हैं, जिसकी वजह से संक्रमण होने की संभावना वैसे भी ज्यादा रहती ही है। और अगर आप गर्भवती हैं तो यह समझना ज़रूरी है कि अगर आपको इस समय कोविड इन्फेक्शन होता है तो स्थिति बहुत मुश्किल बन सकती है। ऐसे में ज़रूरी है कि आप इस बात से घबराए नहीं बल्कि बहुत सतर्कता और समझदारी से काम लें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *